Rahat Indori मशहूर शायर जाते जाते कह गए कुछ ऐसा

‘रहने को सदा दुनिया मे आता नही कोई…आप जैसे गए वैसे भी जाता नही कोई’ शायरों की दुनिया से आज एक सितारा हमेशा के लिए चला गया। 70 वर्ष के मशहूर शायर Rahat Indori 11 अगस्त 2020 को दुनिया को अलविदा कह गए। उनकी मौत Cardiac aarest से हुई हैं। लेकिन राहत इंदौरी कोरोना संक्रमित भी थे। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्विटर हैंडल और इंस्टाग्राम पर दी थी।

Rahat Indori जाते जाते भी अपनी आखिरी शायरी के साथ एक पोस्ट लिख गए थे। ‘शाखों से टूट जाएं वो पत्ते नहीं हैं हम, कोरोना से कोई कह दे कि औक़ात में रहे। वहीं पोस्ट में राहत इंदौरी ने लिखा था, ‘covid के शरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आयी है। ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं, दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं। एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी ख़ैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी’

Rahat Indori ने लिखे थे यह famous songs

शेरो शायरी लिखने वाले Rahat Indori फिल्मों में लिरिक्स राइटर के तौर पर काफी मशहूर भी रहे हैं। उन्होंने काफी लोकप्रिय गाने लिखे हैं जैसे – Kashmir film का song “Boombro” जिसमे Hrithik Roshan और Preity Zinta ने परफॉर्म किया था। Kajol और Ajay Devgan स्टारर फिल्म “Ishq” का song “Dekho Dekho Janam hum” और “Yaarana” movie का “Dil Loye Loye Aaja Aaja Mahi song” जिसमे परफॉर्म Madhuri dixit ने किया था। इसी के साथ उन्होंने और भी बॉलीवुड के मशहूर गाने लिखे थे।

Rahat Indori इस film में आये थे नज़र

लेकिन क्या आप जानते हैं बॉलीवुड फिल्मों के लिए कई फेमस गाने लिखने वाले राहत इंदौरी एक फिल्म में भी नज़र आ चुके हैं। शायद आप ये नहीं जानते होंगे। हम बताते हैं राहत किस फिल्म में नज़र आए थे। साल 1994 में रिलीज़ हुई फिल्म “Dilbar” में राहत की हल्की सी झलक दिखाई थी, जिसमें उन्हें कैदी की तरह दिखाया गया था। फिल्म में भी राहत शायरी सुनाते हुए ही नज़र आ रहे हैं। ‘मोहब्बत के इस सफर में हमसफर भी छूट जाते हैं, जिन्हें आंखें सजाती वो सपने भी टूट जाते हैं, मेरे ख़ुदा कोई इतना न प्यार को तरसे…जुदा न कर अपने दिलबर को दिलबर से। यूं बदल जाते हैं मौसम हमें मालूम न था, प्यार है प्यार का मातम हमें मालूम न था…इस मुहब्बत में यहां किस का भला होना है, हर मुलाकात की किस्मत में जुदा होना है’।

Rahat Indori- ‘मैं मर जाऊं, तो मेरी एक अलग पहचान लिख देना, लहू से मेरी पेशानी पे हिन्दुस्तान लिख देना’

राहत इंदौरी कितने बड़े और मशहूर शायर थे ये बात सभी जानते हैं। हर उम्र का शख़्स उनकी शायरी का दीवाना था। क्या मोहब्बत हो, क्या बग़ावत, हो क्या देशभक्ति हो, क्या नफरत हो… राहत साहब हर तरह की शायरी करने में माहिर थे। उनकी शायरी करने का अंदाज इतना अलग था कि वो अपने अंदाज़ से ही महफिल में जान डाल देते थे। साथ में बॉलीवुड में भी एक सदमा हैं।राहत साहब का जाना शायरी की दुनिया में तो एक झटका है। सोशल मीडिया पर ट्वीट कर लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

Sushant के पिता ने दिखाए Rhea को भेजे हुए messages