इसलिए Kangana Ranaut ने नहीं करवाई अपने दफ्तर की मरम्मत

Kangana Ranaut ने बुधवार को मुंबई पहुंचने के बाद गुरुवार को अपने टूटे हुए दफ्तर का दौरा किया, जिसमे उन्होंने यह फैसला लिया हैं कि वह अपने उजड़े हुए ऑफिस की मरम्मत नहीं करवाएंगी| उसे उसी हाल में रखेंगी जैसा वह हैं उनका कहना हैं कि यह औरतो की इच्छाशक्ति की मिसाल बनेगा| BMC ने पाली हिल स्थित कंगना के ऑफिस को अवैध निर्माण के चलते तोडा था, जिसमे कंगना का कहना हैं कि उनके दफ्तर में किसी तरह का कोई अवैध निर्माण नहीं किया गया था|

कंगना के मुंबई पहुंचने से पहले ही उनके दफ्तर को गिरा दिया गया था, इसके चलते BMC की कार्यवाही के बाद कंगना गुरुवार को अपना टुटा हुआ दफ्तर देखने पहुँची थी| जिसके बाद कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा हैं, ” मैंने अपने ऑफिस की शुरुवात इसी साल 15 जनवरी को की थी, कोरोना के शुरू होने से ठीक पहले, सभी की तरह मैंने तभी से काम नहीं किया हैं| इसकी मरम्मत करवाने के लिए मेरे पास पैसे नहीं हैं, और मैं उन्ही अवशेषों के बीच से काम करूंगी। मैं अपने ऑफिस को यूं ही उजड़ा हुआ रखूंगी, जो ऐसी औरत की इच्छाशक्ति की मिसाल बनेगा, जिसने इस दुनिया में उठने की कोशिश की।”

Kangana ranaut ने Mumbai को कहा Pakistan – पाक जर्नलिस्ट ने दिया यह जवाब

अगली सुनवाई 22 सितम्बर को

BMC ने गुरुवार को highcourt में अपना हलफ़नामा जमा किया था जिसमे कोर्ट ने की गई कार्यवाही को सही बताया हैं| 14 सितम्बर तक कंगना के वकील को BMC के हलफनामे पर जवाब देना हैं, अगली सुनवाई 22 सितम्बर को होगी जिसमे कंगना को भी अपने तथ्य रखने का मौका मिलेगा|

Kangana Ranaut 9 सितम्बर को Y security के साथ पहुंची थी मुंबई

शिवसेना नेता Sanjay raut की मुंबई न आने की धमकी के बाद कंगना ने लिए मुंबई आने के लिए Union home minister Amit Shah से सिक्योरिटी की मांग की थी| जिसके बाद 9 सितम्बर को Kangana Ranaut मुंबई पहुँची थी, उनके पहुंचने से पहले ही उनकी प्रॉपर्टी को BMC द्वारा तहस महस कर दिया गया था, जिसका आरोप कंगना ने महाराष्ट्र सरकार शिवसेना पर लगाया हैं, और Uddhav Thackeray को खुली चुनौती दी हैं| कंगना अब वह अयोध्या पर ही नहीं बल्कि कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाएंगी|

Kangana Ranaut का शिवसेना को खुल्ला चैलेंज आ रही हूँ मुंबई रोक के दिखाओ