जानिए आखिर क्यों Japan के Prime Minister Shinzo Abe ने दिया इस्तीफ़ा

Japan के Prime Minister शिंजो आबे ने शुक्रवार (28 अगस्त 2020) को अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया हैं। उन्होंने घोषणा की कि वह स्वास्थ्य समस्याओं से परेशान हैं, और इसी कारण पद से इस्तीफा दे रहे हैं। Shinzo Abe कुछ समय से पेट की बीमारी से जूझ रहे थे, और इस बीच कई बार हॉस्पिटल में भर्ती हुए। इसी के चलते जापान के प्रधानमंत्री ने यह ऐलान किया।

Shinzo Abe इस बीमारी से हैं ग्रस्त

शिंजो आबे अपनी वर्षों पुरानी बीमारी अल्सरेटिव कोलाइटिस से जूझ रहे हैं। आबे ने बताया कि वह अल्सरेटिव कोलाइटिस की पुनरावृत्ति से पीड़ित थे जिसके कारण उन्हें पद के साथ-साथ अपने पहले कार्यकाल में भी इस्तीफा देना पड़ा था। उनका कहना हैं कि इस वक़्त लगातार अस्पताल जाने के लिए और मुझे प्रॉपर मेडिकल ट्रीटमेंट करवाने के लिए नियमित रूप से गुजरना होगा। और ऐसी हालत में मेरे पास इतना पयार्प्त समय नहीं हैं कि मैं प्रधानमंत्री के कर्तव्यों का पालन कर सकू। मैं अब जनता के जनादेश को पूरा करने के सक्षम में नहीं हूँ। इसलिए मैंने यह फैसला किया हैं कि मुझे Prime Minister की पोस्ट से resign करना चाहिए।

Japan के PM एक बार पहले भी दे चुके हैं इस्तीफ़ा

बता दे जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे एक बार पहले भी अपने अस्वास्थ्य के कारण 2007 में अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं। आबे तब से अपनी बीमारी का इलाज करवा रहे हैं। वह दुबारा 2012 में भारी बहुमत के साथ इस पद पर कार्यरत हुए थे। आबे ने हाल ही में अपने कार्यालय में 8 साल पुरे किये हैं।

65 साल के आबे ने देश की अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से पटरी पर लाने का वादा किया था। शिंजो चीन के खतरे को देखकर जापान की जनसँख्या को मजबूत करने में लगे हुए थे। और बता दे शिंजो आबे Japan के सबसे ज्यादा समय तक रहने वाले प्रधानमंत्री बन गए थे।

Supreme court की UGC को हरी झंडी- नहीं होंगे final exams दिए बिना छात्र पास