Celebrating the Elegance of womanhood ! International Women’s Day 2019 

भारतीय संस्कृति में नारी के सम्मान को बहुत महत्व दिया जाता हैं। कहते हैं की जहा नारी की पूजा होती हैं वहां देवता निवास करते हैं। ब्रह्मा के पश्चात मानव को वितरित करने वाली नारी का स्थान सर्वोपरि हैं। इनका सम्मान पुरे विश्व को बदलने की ताकत रखता हैं। 

History Of International Women’s Day

International Women’s Day हर साल 8 March को मनाया जाता हैं। महिलाऐं ही हमारे देश का गौरव है और नारी का सम्मान हमारे लिए सर्वोपरि है| 8 March पुरे विश्व में महिलाओं के सम्मान हेतु महिला दिवस मनाया जाता है| सबसे पहले ये दिन अमेरिका में सोशलिस्ट पार्टी के आह्वान पर 28 फ़रवरी 1909 को मनाया गया था। फिर इस दिवस को फरवरी के अंतिम रविवार को मंजूरी दी गयी। हम आपको बता दे कि पहले कई देशों में महिलाओं को वोट देने का अनुमति नहीं थी। उन्हें ये अधिकार दिलाने के उद्देश्य से 1910 में सोशलिस्ट इंटरनेशनल के कोपेनहेगन सम्मेलन में महिला दिवस को अन्तर्राष्ट्रीय दर्जा दिया गया। 


रुस में जब ये आन्दोलन शुरू हुआ था तब वहां जुलियन कैलेण्डर चलता था  जिसके अनुसार फरवरी का आखिरी रविवार को 23 तारीख थी जबकि बाकी दुनिया में उस समय भी ग्रेगेरियन कैलेंडर चलता था और उसके मुताबिक़ रूस की तेईस फरवरी बाकी दुनिया की आठ मार्च थी इसीलिए 8 March को International Women’s Day के रूप में मनाया जाने लगा।

Celebration Of Women Power : International Women’s Day

  • Dr. Tessy Thomas

डॉ. टेसी थॉमस जिन्हे कुछ लोग  ‘मिसाइल वूमन’ कहते हैं, तो कई उन्हें ‘अग्नि-पुत्री’ का खिताब देते हैं, वे  पहली भारतीय महिला हैं, जो देश की मिसाइल प्रोजेक्ट को संभाल रही हैं। 

  • Mary Kom 

मेरी कॉम भारत की प्रसिद्ध Boxer हैं। बॉक्सिंग में उन्होंने भारत को विश्व में महत्वपूर्ण स्थान दिलाया है। उन्होंने 10 बार National Boxing Championship जीती है।

  • Kiran Bedi

किरण बेदी जो की भारत की पहली IPS Officer होने के साथ ही साथ भूतपूर्व टेनिस खिलाडी और सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं। 1965 से 1978 के बीच उन्होंने कई सारे राष्ट्रीय और राज्य पुरस्कार जीते।

  • P.T.Usha

भारतीय ट्रैक और फ़ील्ड की रानी” मानी जानी वाली P.T. Usha देश दुनिया का एक जाना माना नाम हैं। P.T. Usha एक महान एथलिट हैं जिन्होंने 1979 से लगभग दो दशकों तक भारत को अपनी प्रतिभा के चलते सम्मान दिलाया था। 

इसके अलावा भारत की कई महिलाओं ने अपनी अपनी प्रतिभाओ का हुनर दिखाया हैं और साथ ही साथ देश को गौरवान्वित भी किया हैं जैसे की सानिया मिर्ज़ासाइना नेहवालफराह खानसरोज खानसुरेखा यादवकल्पना चावलासुनीता विल्लियम्स आदि। 

एनी बेसंन्ट ने कहा है कि-

स्त्रियाँ ही हैं, जो लोगों की अच्छी सेवा कर सकती हैं, दूसरों की भरपूर मदद कर सकती हैं। जिंदगी को अच्छी तरह प्यार कर सकती हैं और मृत्यु को गरिमा प्रदान कर सकती हैं।

Poem On Women’s Day

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *