आपदा को अवसर में बदलना कोई इनसे सीखे, 12 साल के बच्चे और माता-पिता का सराहनीय काम

आपदा को अवसर में बदलने का एक उदाहरण महाराष्ट्र में देखने को मिला। जहाँ पर एक परिवार ने Lockdown में एक कुआँ खोद डाला और आप जानकर हैरान होंगे कि इस परिवार में पति-पत्नी और एक 12 साल का बच्चा है। इन तीनो ने ही पानी की समस्या को हल करने के लिए ये अनोखा काम किया है।

वाशिम के जामखेड़ गांव के रामदास फोफले ने लॉकडाउन में अपनी पत्नी और 12 साल के बेटे के साथ मिलकर 22 दिनों में कुंआ खोदा। रामदास ने बताया, “गांव में पानी की काफी दिक्कत थी, मैंने परिवार के साथ चर्चा करी कि समय बर्बाद हो रहा है(लॉकडाउन में) और हमने कुंआ खोदने का सोचा।”

           

Battleground Mobile India भारत में हुआ लॉन्च, यहां से अभी करें download

क़रीब 22 दिनों में हमने 20 फीट कुंआ खोदा और हमें पानी मिल गया लेकिन इतने पानी से अकेले मेरे घर का गुजारा हो सकता है। हमने 5-10 फीट कुंआ और खोदने का सोचा है जिससे मोहल्ले वालों की पानी की समस्या का भी हल हो जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *